Wednesday, 19 May 2021

बच्चों के भविष्य के लिए जो पैसे जोड़े थे, इस आदमी ने ऑक्सीजन एंबुलेंस सेवा में लगाए

कोरोना दौर में लोगों ने अपने आसपास कई ऐसे लोगों को देखा जो उनके दुख दर्द में सामने आए। उनकी मदद करने आए। इसलिए कहते हैं कि हीरोज हमारे आसपास होते हैं, बस हमें नजर चाहिए होती है उन्हें पहचाने की। अमरजीत सिंह एक ऐसे ही शख्स का नाम है। राजधानी दिल्ली जब ऑक्सीजन के लिए लड़ रही थी। लोगों के अपने जब अस्पतालों में बेड नहीं ले पा रहे थे, तो अमरजीत ने अपनी ओर से एक पहल की, उन्होंने लोगों के लिए ऑक्सीजन एंबुलेंस सेवा शुरू की।



हमारे सहयोगी  ने हाल ही में उनसे बातचीत की। अमरजीत कहते हैं, ‘मैं कोई संत नहीं हूं। मैं कुछ भी नहीं हूं। मैं बस एक छोटा सा काम कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि अभी मेरे पास समय नहीं है मैं एक मरीज को लेकर एम्स जा रहा हूं। मुझे माफ करना जब मुझे फुरस्त मिलेगी मैं आपसे जरूर बात करूंगा। पर मुझे ये नहीं पता कि मैं खाली कब होउंगा। क्योंकि मैं आधी रात तक काम पर रहता हूं।’ स्कूल की कैब चलाते थे वो कोरोना काल से पहले अमरजीत स्कूल कैब ड्राइवर थे। अब वो लोगों को 24 घंटे ऑक्सीजन एंबुलेंस सेवा मुहैया करवाते हैं। उनकी कार में ऑक्सीजन सिलेंडर लगे हैं। इसी के जरिए वो आज लोगों की जान बचाने का काम कर रहे हैं।


वो कहते हैं, ‘मेरी 8 वर्षीय बच्ची है। मैंने अपने बच्चों को बता रखा है कि उन्हें भी मुझसे कोरोना हो सकता है। बच्ची मुझसे कहती है कि पापा अगर हमें कुछ हो गया तो हम भगवान जी को ये बोल सकेंगे कि हमने कुछ अच्छा काम किया है।’ उनका परिवार ही उनकी प्रेरणा है। उनकी पत्नी और उनकी दो बेटियां और एक बेटा उन्हें ये नेक काम करने के लिए इंस्पायर करते हैं।




Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home